कार्यकलाप समिति बैठकें - फ्लूइड कैटॉलाइटिंक क्रैकिंग

17-18 दिसंबर, 2009 को जामनगर में एस्सार ऑयल लिमिटेड में 39वीं एफसीसी कार्यकलाप बैठक सम्पन्न हुई।


बैठक के लिए कार्यसूची:

  • अक्टूबर, 2008 से सितंबर, 2009 तक की अवधि के दौरान इकाई प्रचालन।
  • इस अवधि के दौरान किया गया संयंत्र सुधार/खराबी दूर करना।
  • उन्नत कार्य-निष्पाषदन के लिए उत्कृष्ट प्रचलनात्मक पद्धतियां।

 

कार्य:

  • रिफाइनरियां/आरएण्डडी से कार्यकलाप समिति के सदस्यों से पिछली बैठक से अब तक यूनिट/मामला अध्यायन के निष्पादन पर प्रस्तुति (पॉवरप्वाइंट में) करने का अनुरोध किया जाता है।
  • पिछली बैठक में दी गई तारीख के अनुसार इकाई निष्पादन और प्रचलनात्कर आंकड़े तैयार करना।


श्री बी.डी. घोश, कार्यकारी निदेषक, उच्च प्रौद्योगिकी केन्द्र ने मुख्य भाषण दिया और इसका उद्घाटन श्री सी. मनोहरन, रिफाइनरी प्रमुख, एस्सार आयल लि. ने किया ।

इस दो-दिवसीय बैठक में एफ. सी.सी.यू. के प्रचालन, तकनीकी सेवाओं और रख-रखाव संबंधी क्षेत्रों में, पैंतीस प्रतिनिधियों और उत्प्रेरक विक्रेताओं ने भाग लिया । अक्टूबर, 2008 से सितम्बर, 2009 तक की अवधि के दौरान उन्नत निष्पादन, यूनिट प्रचलन पर चर्चा हेतु उत्कृष्ट प्रचलनात्मक पद्धति पर भागीदारों द्वारा व्यापक विचार-विमर्ष किया गया । कार्यकलाप समिति के सदस्यों ने अक्टूबर, 2008 से सितम्बर, 2009 तक के दौरान अपने संयंत्र को बंद करने हेतु अनुभवोंसंयंत्र में संषोधन करने तथा खराबी को दूर करने पर भी अपने विचारों का आदान-प्रदान किया

 

एफ.सी.सी. की 40वीं कार्यसमिति की बैठक

दिनांक : 3 - 4 मार्च 2010
स्थल : इंडियन ऑयल कार्पोरेशन लिमिटेड – मथुरा रिफाइनरी

बैठक का वृतांत :

  • अक्‍तूबर 2009 से दिसम्‍बर 2010 के दौरान यूनिट परिचालन संबन्धित विषयों पर चर्चा ।
  • उक्‍त अवधि के दौरान प्लाण्‍ट में परिवर्तन ध् ट्रबलशूटिंग संबन्धित ।
  • निष्‍पादन सुधार के लिए सर्वश्रेष्ठ परिचालन विधियाँ ।

 

कार्यवाई :

  • रिफाइनरी अनुसंधान एवं विकास से आए हुए कार्य समिति के सदस्यों से अनुरोध किया गया कि वे पिछले बैठक से आगे पॉवरपॉइन्‍ट में यूनिट के निष्‍पादन मामलों के अध्ययन पर अपनी प्रस्तुति दें।
  • पिछली बैठक में दी गई तिथि के अनुसार यूनिट निष्पादन एवं प्रचलनात्मक डाटा विवरण ।

 

श्री जे. पी. गुहारे कार्यकारी निदेशक मथुरा रिफाइनरी ने 3 मार्च 2011 को उद्घाटन किया तथा श्री बी. डी. घोष कार्यकारी निदेशक उच्च प्रौद्योगिकी केन्द्र ने आरंभिक भाषण दी । इस बैठक का समापन दिनांक 4 मार्च को श्री जी. श्रीगणेश कार्यकारी निदेशक एच.पी.सी.एल. अनुसन्धान एवं विकास जो कि इस बैठक के संचालक थे के द्वारा किया गया ।

दो दिन की इस बैठक में प्रचलन तकनीकी सेवाओं एफ.सी.सी.यू. के अनुरक्षण से संबन्धित 45 प्रतिनिधियों तथा एफ.सी.सी. के लाइसेंसरों ने भाग लिया । अक्टूबर 2009 से दिसम्बर 2010 तक की अवधि के दौरान प्रचलनात्‍मक अभ्‍यासों यूनिट प्रचलन से संबंधित चर्चा की गईं । समिति सदस्यों ने भी अक्टूबर 2009 से दिसम्बर 2010 की अवधि के दौरान प्लान्ट शटडाऊन परिवर्तन तथा ट्रबलशूटिंग पर पारस्परिक विचार विमर्श किया ।

© Copyright Centre for High Technology. All Rights Reserved. © Site designed & maintained by Goldmine Advertising Limited